SJ Financial II - шаблон joomla Форекс

wrapper

Breaking News

A1TV Jaipur

A1TV Jaipur

कोयला घोटाले में झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा दोषी

सीबीआई की एक विशेष अदालत ने कोयला घोटाला मामले में झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा को दोषी करार दिया है. मधु कोड़ा के अलावा पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता, झारखंड के पूर्व मुख्य सचिव अशोक कुमार बसु और एक अन्य व्यक्ति को भी दोषी पाया गया है. यह मामला राजहरा नॉर्थ कोयला ब्लॉक के आवंटन में हुईं अनियमितताओं से जुड़ा है. यह ब्लॉक कोलकाता स्थित विनिल आयरन एंड स्टील उद्योग लिमिटेड (वीआईएसयूएल) को आवंटित किया गया था.

इस मामले की सुनवाई के दौरान सीबीआई ने आरोप लगाया था कि राजहरा ब्लॉक के आवंटन के लिए आरोपित फर्म ने आठ जनवरी, 2007 को आवदेन किया था. उसके मुताबिक झारखंड सरकार और इस्पात मंत्रालय ने आवंटन के लिए वीआईएसयूएल की सिफारिश नहीं की थी, लेकिन स्क्रीनिंग कमेटी ने आरोपित फर्म को ब्लॉक देने की अनुशंसा कर दी. जांच एजेंसी ने कहा कि उस समय कमेटी के अध्यक्ष एचसी गुप्ता ने कथित तौर पर तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से यह तथ्य छिपाया कि झारखंड सरकार ने वीआईएसयूएल की सिफारिश नहीं की है. उस समय कोयला मंत्रालय मनमोहन सिंह के पास था. सीबीआई ने आरोप लगाया कि कोड़ा, बसु और दो सरकारी कर्मचारियों ने वीआईएसयूएल को ब्लॉक दिलाने के लिए साजिश रची. सभी दोषियों की सजा का एलान कल गुरुवार को किया जाएगा.

Read more

संसद पर आतंकी हमले की 16वीं बरसी, मोदी ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि

गुजरात विधानसभा चुनावों में भाषा की मर्यादाएं टूटी एक दूसरे के प्रति तल्खियां दिखी लेकिन जब बात देश की एकता की हो तो सारे नेता एक जुट नजर आए। गुजरात विधानसभा एक दूसरे पर गंभीर आरोप-प्रत्यारोप लगाने वाले पीएम नरेंद्र मोदी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने एक दूसरे का बुधवार को अभिनंदन किया। मौका था दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के सबसे बड़े प्रतीक संसद पर आतंकी हमले की 16वीं बरसी पर जब शहादत को सम्मान देने का। जिसके लिए सारे नेता जुटे थे।

कांग्रेस पर तीखे हमले बोलने वाले सूचना प्रसारण मंत्री रविशंकर प्रसाद और राहुल गांधी एक दूसरे का अभिनंदन करते देखे गए। यहीं नहीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और भाजपा के अन्य मंत्री राहुल गांधी के साथ गुफ्तगु करते नजर आए।

आपको बता दें कि 3 दिसंबर, 2001 को संसद पर हुए आतंकी हमलों में दिल्ली पुलिस के 5 जवान, सीआरपीएफ की एक महिला अधिकारी, संसद के 2 सुरक्षाकर्मी और एक माली शहीद हुआ था। लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने संसद में विस्फोट कर सांसदों को बंधक बनाने की साजिश रची थी। देश के जवानों ने अपनी जान की बाजी लगाकर आतंकियों के मंसूबों को कामयाब नहीं होने दिया।

Read more

अत्याधुनिक हथियारों से लैस सुजय भारतीय युद्दपोत में शामिल होगा

गोवा। भारत में पनडुब्बी से लेकर एयरक्राफ्ट तक बनाए जा रहे हैं इसी कड़ी में 10 दिसंबर को देश की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण गोवा शिपयार्ड में बन रहे अत्याधुनिक हथियारों से लैस युद्धपोत  सुजय को देश  को समर्पित करेंगी। नौसेना की ओर से समुद्री तटों की रक्षा और निगरानी के लिए अपतटीय गश्ती पोत आईएनएस सुमित्रा के बाद सुजय देश के रक्षा बेड़े में शामिल हो जाएगा। ये जानकारी  गोवा शिपयार्ड के ऑपरेशन निदेशक एस पी रायकर ने दी। रायकर ने बताया कि कोस्ट गार्ड ओपीवीसी वेसिल का सौ प्रतिशत डिजाइन गोवा शिपयार्ड में ही किया जाता है ।यह सुजय अत्याधुनिक हथियारों से लैस होगा जिसमें 4 बोटिंग बोट्स होगी ,छत पर ही हेलीकॉप्टर लैंडिंग सुविधा होगी। इसमें एक 30 mmगनः  दो 12 . 7  गनः फायर कंट्रोल हथियारों के साथ लैस होगी जो मध्यम और कम दूरी की मार करने वाले हथियारों से भी लेस होगी।  जो समुद्री तटीय इलाकों में दुश्मनों को मात दे सके। इसके साथ ही भारत देश अन्य मित्र देशों  के लिए भी अत्याधुनिक हथियारों से लैस युद्धपोत का निर्माण करता है।

गोवा शिपयार्ड के अधिकारियों का कहना है कि इसको लेकर अंतिम फैसला रक्षा मंत्रालय को ही करना है  रसिया सरकार के लिए भी जीव शोपयर्ड का निर्माण कर रही है।रसिया इसको लेकर गंभीर है और लगातार मीटिंग के दौर चल रहे हैं। गोवा शिपयार्ड में उनके लिए उनके अनुरूप युद्धपोत का निर्माण किया जाएगा ।जो अब तक की सबसे अत्याधुनिक युद्धपोतों में से एक होगी।इसकी डिजाइन और अत्याधुनिक हथियार रसिया सरकार के मांग के अनुसार लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि गोवा शिपयार्ड में पनडुब्बी और युद्धपोत दूसरे मित्र देशों के ऑर्डर के आधार पर बनाए जाते हैं लेकिन इसका फैसला भारत सरकार को ही करना होता है ।भारत सरकार के निर्देश पर ही गोवा शिपयार्ड श्रीलंका, मयमार, उत्तरी कोरिया,  और रसिया के लिए समय समय पर युद्ध पौधों का निर्माण करता है। अभी भी श्रीलंका के लिए दो युद्ध पोत गोवा शिपयार्ड पर बनाए जा रहे हैं। ये भी अत्याधुनिक हथियारों से लैस होंगे और यह सभी उत्पाद गोवा शिपयार्ड बनाकर देता है। सबसे खास बात है कि गोवा शिपयार्ड के पास लिफ्टिंग की सुविधा भी है। जो अन्य शिपयार्ड के पास नही है। समुद्र में किसी भी तरह की केजुयल्टी पर   गोवा शिपयार्ड लिफ्टिंग के माध्यम से बचाव कार्य करती है। गोवा शिपयार्ड में निर्मित पनडुब्बी, युद्धपोतों से समुंद्री लुटरों ओर देश की समुंद्री सीमाओं की रक्षा कर देश सेवा में  अव्वल है।

Read more

Contact Us

For General Enquiry
  •  : info@a1tv.tv
  •  : 0141 - 4515121, 4515151
For Advertising
  • : advt@a1tv.tv,      a1tv.advt@gmail.com
  •  : +91- 98280-11251, 98280-10551
  •  : +91- 98280-10551