SJ Financial II - шаблон joomla Форекс

wrapper

Breaking News

सिर्फ सोचने से ही स्क्रीन पर खुद टाइप होने लगेंगे शब्द, फेसबुक का सीक्रेट प्रोजेक्ट- ब्रेन सेंसिग टेक्नॉलॉजी

Facebook अपने एेप को बढ़िया बनाने के लिए हमेशा उसमें नए-नए फीचर्स शामिल करता रहता हैं. Facebook पिछले दो सालों से Building 8 नाम के एक सीक्रेट प्रोजेक्ट पर काम कर रहा है. दरअसल, यह प्रोजेक्ट माइंड रीडिंग तकनीक यानी दिमाग पढ़ने वाली टेक्नॉलॉजी पर है. इसके अलावा इवेंट के दौरान इस प्रोजेक्ट के बारे में ऐसी कई चीजे बताई गई हैं जिसे जानकर लोगों को काफी हैरानी हुई है.

रिर्पोट के मुताबिक, फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्क ने कहा कि सोशल नेटवर्क फेसबुक ब्रेन कंप्यूटर इंटरफेस टेक्नॉलॉजी पर काम कर रही है जो एक दिन सिर्फ दिमाग के जरिए बातचीत करना काफी आसान बना देगा. जरा सोचिए, आप जो भी सोच रहे हैं वो बिना हाथों से टाइप किए स्क्रिन पर टाइप हो रहा है.

ऐसा ही कुछ एक इंवेट के दौरान हुआ है. एक ऐसी महिला जो बोल या सुन नहीं सकती है. वो ना अपना हाथ हिला सकती है और नही टाइप कर सकती है लेकिन इस वीडियो में दिखाया गया है कि वो सिर्फ सोच रही हैं और स्क्रीन पर वर्ड्स खुद ब खुद टाइप हो रहे हैं. हालांकि यह हमारे स्मार्टफोन और कंप्यूटर में टाइप किए गए वर्ड्स से काफी स्लो है, लेकिन कंपनी के मुताबिक जब यह टेक्नॉलॉजी हकीकत बनेगी तो इसकी स्पीड भी बढ़ जाएगी.

इस प्रोजेक्ट की हेड रेगीना ने यह भी खुलासा किया है कि उनकी टीम सिर्फ ब्रेन वेभ के जरिए एक मिनट में 100 वर्ड्स टाइप करने पर काम कर रही है. इसके अलावा फेसबुक और भी कई ऐसे प्रोजेक्ट पर काम कर रहा है जिसमें इंसानों की स्किन के जरिए स्पोकेन लैंग्वेज डिलिवर करना भी शामिल है जो काफी हैरान करने वाला है. यानी स्किन के जरिए भी इंसान सुन सकता है.

Read more

अब Whatsapp से आसानी से ट्रांसफर कर पाएंगे पैसे,अगले 6 महीने में शुरू हो सकती है ये सर्विस

 


नई दिल्ली। नोटबंदी के बाद से ही भारत को डिजिटल बनाने के प्रयास किये जा रहे हैं। सूत्रों की मानें तो भारत में डिजिटल वॉलेट के बढ़ते चलन को देखकर WhatsApp डिजिटल पेमेंट सेक्टर में आने के बारे में सोच रहा है। इन दिनों WhatsApp में आने वाले नए फीचर को लेकर चर्चाएं काफी जोर-शोर से हो रही हैं। खबरों कि मानें तो WhatsApp UPI बेस्ड डिजिटल पेमेंट सिस्टम लाने की तैयारी कर रहा है, जो डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने के लिए बनाया जा रहा है। सुनने में आ रहा है कि ये फीचर इस साल के आखिरी तक लॉन्च हो सकता है।
'दे केन' वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल ट्रांजेक्शन बिजनेस के लिए वॉट्सएप और एनपीसीआई (नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया) में बातचीत चल रही है. कंपनी इसके लिए ऐसे शख्स को तलाश रही है, जो आधार, यूपीआई और भीम एप में एक्सपर्ट नॉलेज रखता हो. रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि ये सर्विस यूजर टू यूजर बेस्ड होगी और अगले 6 महीने में लॉन्च हो सकती है.


क्या है UPI बेस्ड डिजिटल पेमेंट सिस्टम?

ध्यान दें कि भारत में पिछले साल काले धन की समस्या से निपटने के लिए और अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए सरकार द्वारा नोटबंदी का फैसला लिया गया था। इसके बाद देश में digitalization को बढ़ावा देने की कोशिश की जा रही है। नोटबंदी के बाद कैशलैस सुविधा के लिए सरकार ने भीम एप जैसी सर्विस भी पेश की। इसके अलावा कैशलैस सर्विस और digitalization को बढ़ावा देने के लिए कई मोबाइल वॉलेट एप और डिजिटल पेमेंट एप शुरु किए गए। हाल ही में ट्रूकॉलर 8 को एंड्रायड के लिए लॉन्च किया गया। इसमें कई नए फीचर्स दिए गए, जिसमें यूजर्स यूपीआई प्लेटफॉर्म की मदद से ट्रांजेक्शन कर सकते हैं।
व्हाट्सएप की यह नई सर्विस देश में पहले से उपलब्ध पेमेंट सर्विस जैसे कि एंड्रायड पे और एप्पल पे के लिए कड़ी टक्कर साबित हो सकती है। गौरतलब है कि इसी साल व्हाट्सएप के सह-संस्थापक ब्रायन एक्टन ने संकेत दिया था और कहा था कि, "हम भारत में अधिक से अधिक लोगों को निवेश करने में सहायता करना चाहते हैं"।
और कौन-कौन से है पेमेंट वॉलेट?
आपको बता दें कि सैमसंग ने भी हाल ही में भारत में अपनी लोकप्रिय डिजिटल सर्विस सैमसंग पे को लॉन्च किया था। इसमें उपभोक्ताओं को स्मार्टफोन के साथ-साथ फीचर फोन में भी कॉन्टैक्टलैस पेमेंट की सुविधा मिलेगी। इसके अलावा भीम एप के द्वारा भी आप डिजिटल पेमेंट कर सकते है और माना जा रहा है कि एप्पल के फोन में भी पेमेंट सर्विस जैसे फीचर्स आने वाले है।

Read more

Contact Us

For General Enquiry
  •  : info@a1tv.tv
  •  : 0141 - 4515121, 4515151
For Advertising
  • : advt@a1tv.tv,      a1tv.advt@gmail.com
  •  : +91- 98280-11251, 98280-10551
  •  : +91- 98280-10551