SJ Financial II - шаблон joomla Форекс

wrapper

Breaking News

खेल

खेल (30)

नागौर| नागौर में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने नकली मावे के खिलाफ कार्रवाई की है|टीम ने गंगा सिंह कॉम्पलेक्स में विष्णु मावा भंडार पर छापा मारा और 140 किलो मीठे मावे और 115 किलो फीके मावे के सैंपल लिए...टीम ने सैंपल लेने के बाद मावे को मौके पर ही नष्ट कर दिया|

ओलंपिक में भारत के लिए रिकॉर्ड 2 पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार इस बार ओलंपिक में नहीं होंगे। भारतीय कुश्ती संघ ने उन्हें इस बार नहीं चुना है। भारतीय कुश्ती संघ ने आज बड़ा फैसला लेते हुए सुशील का पत्ता काट दिया और उनकी जगह पहलवान नरसिंह यादव का चयन किया है। रियो ओलंपिक के लिए भारतीय टीम का चयन भारतीय कुश्ती संघ के लिए मुसीबत बन गया था। बीजिंग और लंदन ओलंपिक में पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार को 74 किलो भार वर्ग में नहीं शामिल किया। जबकि नरसिंह यादव पहले ही ओलंपिक कोटा हासिल कर चुके थे और फिर से ट्रायल की मांग कर रहे थे।

 

लंदन : लीसेस्टर ने अपने इतिहास की सबसे बड़ी उपलब्धि हासिल करते हुए कल यहां पहली बार इंग्लिश प्रीमियर लीग फुटबाल टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया. लीसेस्टर के खिलाड़ी कल टीम के शीर्ष स्कोर जेमी वार्डी के घर पर मौजूद थे जब वे अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी टोटेनहैम और पूर्व चैम्पियन चेल्सी के बीच मैच देख रहे थे जिसके 2-2 से ड्रा रहने के साथ ही टीम चैम्पियन बनी.

अब सिर्फ दो मैच बचे हैं और लीसेस्टर ने टोटेनहैम पर सात अंक की बढत बना रखी है जिससे टीम ने 132 साल के इतिहास में पहली बार खिताब जीत लिया है. खिताब तय होने के बाद लीसेस्टर के सभी खिलाडियों ने एक दूसरे को बाहों में भर लिया और खुशी में ‘‘चैंपियंस, चैंपियंस. ओले, ओले, ओले.'' चिल्लाने लगे.

लीसेस्टर के कप्तान वेस मोर्गन ने कहा, ‘‘किसी ने विश्वास नहीं किया था कि हम ऐसा कर सकते हैं, लेकिन अब हम प्रीमियर लीग चैम्पियन हैं और इसके हकदार हैं.'' सिर्फ दो साल पहले वार्डी और उनके कई साथी सेकेंड टीयर में खेलते थे और इसके बाद टीम प्रीमियर लीग से बाहर होने के करीब पहुंच गई थी.

इस साल भी सत्र की शुरुआत में माना जा रहा था कि टीम पर रेलीगेशन का खतरा रहेगा. लीसेस्टर को शनिवार को घरेलू मैदान पर एवर्टन की मेजबानी के दौरान ट्राफी सौंपी जाएगी. चेल्सी के ड्रा ने इसके साथ ही लीसेस्टर के मैनेजर क्लाडियो रानियेरी को उनके करियर में पहला लीग खिताब भी दिला दिया. क्लाडियो को 12 साल पहले चेल्सी ने बर्खास्त किया था.

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने भी खिताबी जीत पर लीसेस्टर को बधाई देते हुए ट्वीट किया, ‘‘लीसेस्टर को बहुत बहुत बधाई. एक असाधारण, पूरी तरह से हकदार, प्रीमियर लीग खिताब.'' 

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 9वें सीजन में अब तक का अपना सबसे अच्छा प्रदर्शन कर रही दिल्ली डेयरडेविल्स मंगलवार को मेजबान टीम गुजरात लायंस के खिलाफ टूर्नामेंट के पिछले मुकाबले में मिली करीबी हार का बदला चुकता करने के इरादे से उतरेगी।

इस मैच से पहले आपके लिए यह बातें जाना बेहद जरूरी है-
1- दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए यह आईपीएल में पहला मौका है जब वह इस लय में खेल रही है और कप्तान जहीर खानके नेतृत्व में पिछले आठ मुकाबलों में छह जीतकर प्वॉइंट टेबल में तीसरे नंबर पर पहुंच गई है। वहीं गुजरात अब तक आठ मैचों में छह जीत चुकी है और टूर्नामेंट की टॉप टीम है।

2- आईपीएल में गुजरात और दिल्ली दूसरी बार एक दूसरे से भिड़ने जा रही हैं लेकिन इनके बीच पिछला मुकाबला टूर्नामेंट निश्चित ही रोमांचक मैचों में गिना जाएगा जब दिल्ली अपने ही फिरोजशाह कोटला मैदान पर क्रिस मौरिस के नॉटआउट 82 रन की पारी के बावजूद महज एक रन से मुकाबला गंवा बैठी थी। लेकिन अब दिल्ली के पास इस हिसाब को चुकता करने का बढि़या मौका है जब वह गुजरात को उसके मैदान पर हरा सकती है।

3- गुजरात ने अपना पिछला मैच भी घर में टूर्नामेंट की फिसड्डी किंग्स इलेवन पंजाब से 23 रन से हारा था जबकि दिल्ली पिछले मैच में दो बार की चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 27 रन की जीत के साथ इस मैच में उतर रही है। हालांकि यह तो तय है कि दोनों ही टीमों का पलड़ा भारी है और यह मुकाबला बराबरी का होगा।

4- गुजरात के खिलाफ मैच हारने के बावजूद मैन ऑफ द मैच रहे दिल्ली के स्टार ऑलराउंडर मौरिस, ओपनर क्विंटन डी कॉक,जे. पी. डुमिनी, करुण नायर, संजू सैमसन, सैम बिलिंग्स, कार्लोस ब्रेथवेट, स्पिनर अमित मिश्रा, तेज गेंदबाज और कप्तान जहीर ने दिल्ली का चाल, चेहरा और चरित्र इस सीजन में पूरी तरह से बदल दिया है।

5- दिल्ली ने केकेआर के खिलाफ पिछले मैच में इस बात को भी साबित किया कि उसका बैटिंग ऑर्डर ओपनिंग बल्लेबाजों पर निर्भर नहीं है और टॉप तीन बल्लेबाजों के महज 32 रन पर आउट हो जाने के बावजूद टीम ने 186 का जबरदस्त स्कोर खड़ा कर दिया। टीम के लिए इस समय मौरिस निश्चित ही उसके स्टार खिलाड़ियों में हैं जो छह मैचों में 46.50 के औसत से 93 रन बना चुके हैं और 6.52 के इकॉनमी रेट से पांच विकेट लेकर तीसरे सफल गेंदबाज भी हैं।

6- टीम का बैटिंग ऑर्डर गुजरात की ही तरह काफी मजबूत है जिसमें कॉक (199) एक सेंचुरी और एक हाफसेंचुरी लगाकर टीम के बेस्ट स्कोरर हैं। इसके बाद नायर (139), संजू(133), डुमिनी(104) हैं। वहीं मिडिल ऑर्डर में मौरिस, ब्रेथवेट और बिलिंग्स भी बेहतरीन रन स्कोरर हैं। केकेआर के खिलाफ नायर की 68 और बिलिंग्स की 54 तथा सातवें नंबर पर कैरेबियाई खिलाड़ी ब्रेथवेट की 34 रन की पारी अहम थी। ब्रेथवेट इस मैच में तीन विकेट लेकर मैन ऑफ द मैच भी रहे थे।

7- इसके अलावा अनुभवी स्पिनर मिश्रा (आठ विकेट), जहीर (छह विकेट) गुजरात के बल्लेबाजों को रोकने के लिए तैयार दिख रहे हैं। गुजरात फिलहाल जैसा प्रदर्शन कर रही है उससे यह कहा जा सकता है कि पंजाब के खिलाफ उसकी हार का उसके मनोबल पर अधिक असर नहीं पड़ने वाला है और वह दिल्ली के खिलाफ इस बार भी मजबूती से खेलने के लिए तैयार है। सुरेश रैना की कप्तानी वाली इस टीम के पास भी कई मैच विनर्स हैं।

8- रैना(228) टीम के बेस्ट स्कोरर हैं और लगातार अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं तो वहीं ब्रेंडन मैक्कलम के कद का खिलाड़ी इस टीम में है जो अब तक 219 रन बना चुके हैं। दिनेश कार्तिक (162), ड्वेन स्मिथ चार मैचों में (163) रन बना चुके हैं जबकि ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा और ड्वेन ब्रावो भी मिडिल ऑर्डर में रन बनाने में सक्षम हैं। कैरेबियाई खिलाड़ी गेंद से भी टीम के सबसे सफल खिलाड़ी हैं और अब तक 10 विकेट ले चुके हैं। हालांकि उन्होंने 28.60 के औसत और 9.22 के इकॉनमी रेट से 286 रन लुटाए हैं और कई बार कुछ महंगे भी साबित होते हैं। लेकिन उन्होंने निरंतर टीम को जीतने में योगदान दिया है।

9- वहीं धवल कुलकर्णी (सात विकेट) दूसरे सफल गेंदबाज हैं। जडेजा (पांच विकेट), प्रवीण तांबे (पांच विकेट) और अनुभवीप्रवीण कुमार भी काफी संतुलित और समझदारी के साथ खेल रहे हैं और दिल्ली को इनसे कड़ी चुनौती मिलना तय है।

10- राजकोट की पिच फ्लैट है। रविवार का मैच भले ही लो स्कोरिंग रहा हो, लेकिन इस मैच में रनों की बारिश देखने को मिल सकती है। दोनों टीमों का बैटिंग ऑर्डर जबरदस्त है।

स्विट्जरलैंड के टेनिस स्टार रोजर फेडरर ने सोमवार को मेड्रिड ओपन से नाम वापस ले लिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, '2006, 2009 और 2012 में मेड्रिड ओपन का खिताब जीत चुके फेडरर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि उनकी पीठ में तकलीफ है। वह किसी भी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहते। इसलिए अपना नाम वापस ले रहे हैं।'

दुनिया में नंबर तीन की वरीयता प्राप्त टेनिस स्टार फेडरर ने कहा कि उनकी पीठ में दर्द है, इसलिए उन्होंने रविवार और सोमवार को प्रैक्टिस भी नहीं किया। उन्होंने कहा कि वह किसी भी तरह का जोखिम नहीं उठाना चाहते।

फेडरर ने कहा कि वह मेड्रिड ओपन में खेलने की जगह बाद में इटैलियन ओपन में खेलना पसंद करेंगे।

नई दिल्ली| महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने आगामी रियो ओलंपिक खेलों के लिए देश का सद्भावना दूत बनने का भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) का निमंत्रण स्वीकार कर लिया है। तेंदुलकर बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान और दिग्गज निशानेबाज अभिनव बिंद्रा के बाद सद्भावना दूत बनने वाले तीसरे व्यक्ति हैं।

आईओए ने मंगलवार को पुष्टि की कि तेंदुलकर ने उनकी पेशकश स्वीकार कर ली है। राष्ट्रीय ओलंपिक संस्था ने 29 अप्रैल को तेंदुलकर को उससे जुड़ने के लिए आमंत्रित किया था। आईओए महासचिव राजीव मेहता ने कहा, ‘सचिन तेंदुलकर ने ओलंपिक में भारतीय दल का सद्भावना दूत बनने का हमारा आग्रह स्वीकार कर लिया है। हमें आग्रह स्वीकार करने का उनका आधिकारिक संवाद मिला है।’ 

उन्होंने कहा, ‘हम सद्भावना दूत के रूप में तेंदुलकर जैसे महान खिलाड़ी के जुड़ने से काफी खुश हैं। हम उनके आभारी हैं। हम उम्मीद करते हैं कि उनका और अन्य सद्भावना दूत का जुड़ाव भारतीय खेल को आगे ले जाएगा।’ सलमान को सद्भावना दूत बनाए जाने के फैसले की पहलवान योगेश्वर दत्त और पूर्व दिग्गज धावक मिल्खा सिंह सहित अन्य के आलोचना करने के बाद आईओए ने बिंद्रा, तेंदुलकर और जाने माने संगीतज्ञ एआर रहमान से संपर्क किया था। 

सलामन खान को रियो ओलंपिक का गुडविल एंबेसडर बनाने के बाद आलोचनाओं का सामना कर रहा भारतीय ओलंपिक संघ अब सचिन तेंदुलकर को रियो में अपना ब्रांड एंबेसडर नियुक्त कर सकता है. बताया जाता है संघ ने इस बाबत चिट्ठी लिखकर सचिन से अंबेसडर बनने की अपील की है. हालांकि सचिन की ओर से इस चिट्ठी का अभी तक कोई जवाब नहीं आया है... सूत्रों के अनुसार ओलंपिक संघ ने सचिन तेंदुलकर के साथ ही संगीतकार एआर रहमान से भी रियो ओलंपिक से जुड़ने की अपील की है. संघ की कोशि‍श है कि दिग्गजों को रियो ओलंपिक से जोड़कर ओलंपिक खेलों की ओर अधिक से अधि‍क लोगों को आकर्षि‍त किया जा सके, ताकि खेलों को बढ़ावा मिल सके और कॉरपोरेट फंडिंग भी हो

जयपुर|राजधानी जयपुर के आईपीएल मैचों को लेकर कशमकश जारी है। सवाई मानसिंह स्टेडियम में आज बीसीसीआई की टीम जायजा लेने पहुंची|जहां टीम ने स्टैंड और मैदान पिच का मुआया लिया| आज पांच सदस्यीय कमेटी का गठन किया जाएगा|

वाशिंगटन। वर्ष 2014 में खेल से संन्यास ले चुके फुटबॉल खिलाड़ी और 2010 में एनएफएल सुपर बॉल विजेता विल स्मिथ की गोली मार कर हत्या कर दी गई। स्मिथ की हत्या अमरीका के न्यू ऑरलियन्स में की गई। गोलीबारी में उनकी पत्नी भी घायल हुईं हैं।

पुलिस के अनुसार ने बताया कि रविवार को हुई इस गोलीबारी को अंजाम देने वाले संदिग्ध 28 वर्षीय कारडेन हेस को गिरफ्तार कर लिया गया है। उस पर द्वितीय श्रेणी की हत्या का आरोप लगाया गया है। 

पुलिस अधीक्षक माइकल हैरिसन ने कहा कि हम पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या स्मिथ और हेस पहले से एक दूसरे को जानते हैं। स्मिथ को नेशनल फुटबॉल लीग में रक्षा पंक्ति में बेहतरीन खिलाड़ी के रूप में जाना जाता था। 

पुलिस ने कहा कि आरोपी गोलीबारी के बाद रुका था। घटना में इस्तेमाल बंदूक को बरामद कर लिया गया है। हेस का आपराधिक रिकॉर्ड रहा है और इससे को पहले वह 2010 में अवैध हथियार और ड्रग रखने के मामले में गिरफ्तार हो चुका है। 

Page 2 of 4

Contact Us

For General Enquiry
  •  : info@a1tv.tv
  •  : 0141 - 4515121, 4515151
For Advertising
  • : advt@a1tv.tv,      a1tv.advt@gmail.com
  •  : +91- 98280-11251, 98280-10551
  •  : +91- 98280-10551