SJ Financial II - шаблон joomla Форекс

wrapper

Breaking News

राजस्थान आज

राजस्थान आज (158)

जयपुर, 6 अक्टूबर। सहकारिता मंत्री  अजय सिंह किलक ने शुक्रवार को बताया कि सहकारी संस्थाओं में अधिकारियों एवं कर्मचारियों की भर्ती के लिए सहकारी भर्ती बोर्ड ने प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी है। अपेक्स बैंक, राजस्थान राज्य सहकारी बैंक, उपभोक्ता संघ, राजफैड, आरसीडीएफ, केन्द्रीय सहकारी बैंक, प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक, होलसेल भण्डार, दुग्ध संघ, क्रय-विक्रय सहकारी समितियों से उनके यहां भर्ती योग्य रिक्त स्वीकृत पदों के संबंध में प्रस्ताव 15 अक्टूबर तक मांगे गए हैैं ताकि उन पदों के लिए भर्ती की कार्यवाही की जा सके। 
 किलक ने बताया कि सहकारी संस्थाओं में पारदर्शी एवं निष्पक्ष तरीके से योग्य कार्मिकों की भर्ती कर उनकी कार्यप्रणाली में रचनात्मक सुधार करना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। इसके मद्देनजर सहकारी नियमों में संशोधन कर तीन सदस्यीय सहकारी भर्ती बोर्ड का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि इस भर्ती बोर्ड के द्वारा उन सभी संस्थाओं में अधिकारियों एवं कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी, जिनमें राजकीय हिस्सा राशि 5 लाख रुपये से अधिक है।
रजिस्ट्रार एवं प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता  अभय कुमार ने बताया कि सहकारी संस्थाओं में सहकारी भर्ती बोर्ड संस्था विशेष के लिए लागू नियमों के आधार पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों की भर्ती करेगा लेकिन भर्ती बोर्ड को कर्मचारियों के चयन के लिए मापदण्ड एवं प्रक्रिया को निर्धारित करने की स्वतंत्रता प्रदान की गई है। उन्होंने बताया कि भर्ती बोर्ड रजिस्ट्रार, सहकारिता से अनुमोदित किसी भी प्रतिष्ठित एवं उपयुक्त विशेषज्ञता प्राप्त एजेन्सी की सेवा ले सकता है।

एक दिन के सामूहिक अवकाश के बाद अखिल भारतीय सेवारत चिकित्सक काम पर लौट आए है। ऐसे में चिकित्सकों ने अपने कर्तव्य का परिचय देते हुए मंगलवार को अस्पताल में मरीजों का इलाज किया। 
अखिल भारतीय सेवारत चिकित्सक संघ के प्रदेश महासचिव डॉ दुर्गाशंकर सैनी ने बताया कि लम्बित मांगो को पूरा करने के लिए 6 सालो से सरकार के साथ चल रही लडाई आगे भी जारी रहेगी जब तक सरकार मांगो को पूरा नहीं कर देती। डॉ सैनी ने बताया कि पूरे ग्रामीण ओर शहरी चिकित्सालयों में पारियों को एक किया जाए। राज्य के डॉक्टरो को केन्द्र के समान वेतन दिया जाए। साथ ही चिकित्सको के साथ होने वाल हिंसक घटनाओं को रोकने के लिए सरकार ठोस कदम उठाए। वहीं चिकित्सको का ये भी कहना है की आपासी लडाई का खामियाजा मरीजो को भुगतना पड रहा है। ऐसे में सेवारत चिकित्सको ने अपनी मांगो के लिए जारी प्रदर्शन के बावजूद भी मरीजों का इलाज करने का निर्णय लिया। 

राजस्थान में एक दिन की हड़ताल के बाद मंगलवार को सरकारी डॉक्टर काम पर लौट आए. लेकिन इस संकेत के साथ कि यदि सरकार अब भी उनकी मांगे पूरी नहीं करेगी तो वे कभी भी फिर से हड़ताल पर चले जाएंगे.

जयपुर के रामगंज इलाके में सड़कों पर पसरा सन्नाटा इस दाैरान फिर रौनक से आबाद हुआ. दोपहर 12 से शाम 6 बजे तक की दी गई ढील में बड़ी संख्या में लोग घरों से बाहल निकले और जरूरत के सामान की खरीददारी में मशगूल नजर आए.

बता दें कि शुक्रवार रात से लगे कर्फ्यू में तीसरे दिन सोमवार को दो घंटे की ढील दी गई थी. कर्फ्यू में ढील के दौरान रामगंज समेत राजधानी जयपुर के चार थाना क्षेत्रों में लोग अपनी जरूरत के समान की खरीददारी करते नजर आए. दो घंटे की रौनक के बाद पूरे इलाके में फिर से सन्नाटा पसर गया.

राजस्थान के जयपुर में डेवलमेंट आथिरिटी के एक बाबू के अकूत दौलत बरामद हुई है. यहां जब एंटी करप्शन ब्यूरो ने छापा मारा तो यह अंदाजा नहीं था कि इस बाबू ने महज 20 साल की नौकरी में सौ करोड़ से ज्यादा की संपत्ति बटोर ली है. एंटी करप्शन ब्यूरो को जेडीए के ऑफिस सुपरिटेंडेंट मुकेश मीणा के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति होने की शिकायत मिली थी.

एंटी करप्शन ब्यूरो के जांच अधिकारियों की मीणा के तीन ठिकानों पर गई लेकिन वहां जाकर पता चला कि इस बाबू के तीन नहीं बल्कि 11 ठिकाने हैं. इतना ही बाबू जयपुर में बनी आठ कोठियों का मालिक है और दो फार्महाउस जयपुर के बाहरी इलाके बस्सी और तुंगा में हैं. इसके अलावा मीणा ने अपने गांव में भी आलिशान मकान बना रखा है. मीणा के पास से कई लग्जरी गाड़ियां भी मिली हैं. फिलहाल मुकेश मीणा के ठिकानों पर कार्रवाई जारी है जिसके बाद उसकी पूरी संपत्ति का खुलासा होगा.

 

जयपुर के कर्फ्यूग्रस्त चार थाना इलाकों को छोड़कर शेष जयपुर में इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गई हैं. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी .

गौरतलब है कि जयपुर के रामगंजथाना इलाके में कल रात हिंसक घटनाओं के बाद चार थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाकर इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई थी. आज सुबह से दोपहर तक जयपुर में इंटरनेट सेवा पर पूरी तरह से रोक थी लेकिन दूसरे पहर कर्फ्यूग्रस्त इलाके को छोड़कर शेष इलाकों में इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गई.
        
जयपुर में इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाने के कारण इंटरनेट बैंकिग सेवाएं बाधित हुई जिस वजह से जयपुर के निवासियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा . इंटरनेट सेवाएं बंद होने के कारण कार्ड के माध्यम से भुगतान नहीं होने की सूचनाएं पेट्रोल पंपों पर चस्पा की हुई थी.
        
लेकिन एटीएम पर ऐसी कोई सूचना नहीं लगी होने के कारण कई लोग पैसा निकालने के लिए एटीएम से जुझते दिखे.

जयपुर : राजस्थान के भीलवाड़ा जिले की एक महिला ने अपने पति से इस आधार पर तलाक की मांग की है कि उसके घर में शौचालय नहीं है. कोर्ट ने आज महिला की तलाक याचिका को मंजूर कर लिया है. कोर्ट का कहना है कि घर में शौचालय का ना होना एक महिला के प्रति क्रूरता है, अत: उसकी याचिका पर सुनवाई होगी. 

महिला के वकील राजेश कुमार ने बताया कि कोर्ट उनकी याचिका पर सुनवाई के लिए तैयार है, क्योंकि शौचालय का ना होना महिला के प्रति क्रूरता है. तलाक की याचिका दायर करने वाली महिला ने बताया कि उसने अपने ससुराल वालों से कई बार शौचालय ना होने के बारे में उनसे बात की, लेकिन उन्होंने कभी मेरी बात पर ध्यान नहीं दिया, वे शिकायत करने पर मेरे साथ मारपीट करते थे.

राज्य सरकार ने गुरुवार को पांच घंटे की वार्ता के बाद गुर्जर सहित पांच जातियों को पांच फीसदी आरक्षण की मांग मान ली है। इसके लिए ओबीसी कोटे को 21 से बढ़ाकर 26 फीसदी करने पर सहमति हो गई है। नोटिफिकेशन के जरिए एसबीसी का पांच फीसदी आरक्षण बाद में अलग किया जाएगा। इस आरक्षण के लिए मानसून सत्र में विधानसभा में विधेयक लाने का संकेत दिया है। एसबीसी आरक्षण के लिए 10 साल में तीसरी बार विधेयक लाया जा रहा है।
गुर्जर समाज को पांच फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर शाम करीब चार बजे मंत्रिमंडलीय कमेटी और समाज के प्रमुख नेताओं के बीच इंदिरा गांधी पंचायती राज भवन में वार्ता शुरू हुई। चार दौर की वार्ता के बाद मंत्रिमंडलीय कमेटी और गुर्जर समाज में ओबीसी कोटे को बढ़ाने पर सहमति हुई। कमेटी के आग्रह पर गुर्जर समाज के नेताओं ने वार्ता के दौरान ही ड्रॉफ्ट तैयार किया और मंत्रियों के साथ मुख्यमंत्री निवास पहुंच गए, जहां करीब दो घंटे की वार्ता के बाद दोनों पक्षों में सहमति बन गई।
बैठक में पंचायत राज मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड़, सामाजिक एवं न्याय अधिकारिता मंत्री अरूण चतुर्वेदी और सामान्य प्रशासन मंत्री हेम सिंह भड़ाना समेत गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला समेत समाज के करीब 15 से 20 प्रतिनिधि मौजूद रहे।

 पंचायती राज भवन में सरकार और गुर्जर समाज के बीच चली वार्ता में मंत्री और नेता कई बार अंदर-बाहर हुए। चार दौर की वार्ता के दौरान मंत्रियों ने कई विकल्प रखे और मांगे। फिर इन पर कुछ अधिकारियों के साथ दूसरे कमरे में बैठकर वार्ता की।
54 प्रतिशत होगा फिर प्रदेश में आरक्षण 49 फीसदी से बढ़कर
एसे होगा 54 प्रतिशत आरक्षण
ओबीसी : 21 के बजाय 26 प्रतिशत
एससी : 16 प्रतिशत
एसटी : 12 प्रतिशत

घोषणा पत्र में ओबीसी कोटे के वर्गीकरण का वादा था, जिसे अलग नोटिफिकेशन जारी कर पूरा करेंगे। इसके लिए मानसून सत्र में विधेयक लाएंगे।


डिजीफेस्ट यूआईटी ऑडिटोरियम में आयोजित किया गया है। डिजीफेस्ट-2017 के आयोजन में डिजिटल तकनीकी के क्षेत्र में स्टार्टअप की संभावनाओं के लिए यह कार्यक्रम किया गया है। बता दें कि 18 अगस्त को यहां सीएम का दौरा भी प्रस्तावित है। मुख्यमंत्री डिजीफेस्ट में शिरकत करने के साथ-साथ जिले के प्रमुख विकास कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण भी करेंगी। इसके लिए सीएम ने ट्वीट कर इसमें शिरकत करनेवाले लोगों को बधाई दी है। 
दुनियाभर में भगवान कृष्ण के जन्मोत्सव को हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। उत्सवों की श्रृंखला में जयपुर में विराजे गोविंद देव के प्रागंण में भी बीती रात्रि से ही उत्सवों का सिलसिला जारी है।
कृष्ण जन्म के बाद आज भगवान गोविंद देव मंदिर में नंदोत्सव कार्यक्रम का आयो​जन किया गया। जहां सुबह उछाल कार्यक्रम में भगवान की ओर से प्रसाद भक्तों की ओर उछाला गया।

प्रतिवर्ष होने वाले इस कार्यक्रम में आज भी भगवान गोविंद को तोपों की सलामी दी गई। इस दौरान मंदिर परिसर में हजारों की संख्या में भक्त मौजूद थे।

भगवान गोविंद देव के अनूठे स्वरूप को निहारने के लिए भक्तों का अल सुबह से ही मंदिर पहुंचना प्रारंभ हो गया था। 

अमित शाह के आने से पहले जयपुर बीजेपी मुख्यालय में सब कुछ चकाचक हो गया है. कुछ पुराना नहीं बचा है. मुख्यालय रोशनी से नहा जाए इसके लिए चारों तरफ नई-नई लाइट की लड़‍ियां लगी हैं. अंदर घुसने पर देखें तो बीजेपी ऑफिस की फ्लोरिंग से लेकर सीलिंग तक सब बदल गया है. सुंदर सिंह भंडारी इसी जगह रहते थे, लिहाजा इसका नाम सुंदर सिंह भंडारी भवन है. यहां कुल 27 नए एसी लगाए गए हैं. गद्देदार कुर्सियां लाई गई हैं. वुडन फ्लोरिंग और नए फाल्स सिलिंग लगी हैं

अमित शाह जयपुर के सर्किट हाउस में रुकेंगे. इसके लिए विभाग ने करीब 15 लाख रुपए इसको सजाने के लिए दिए हैं. डायनिंग रूम और ड्राईंग रूम से लेकर बेडरूम तक ऐसे बदल दिया है, कि लगता ही नहीं कि ये कोई सर्किट हाउस है. इस तरह के दो रूम तैयार किए जा रहे हैं, जिनकी लाइटिंग पर ही करीब डेढ़ लाख रुपए खर्च हो रहा है.

लेकिन राजस्थान सरकार के समाज कल्याण मंत्री अरुण चतुर्वेदी कहते हैं कि इसमें कुछ नया नही है. जब पार्टी का मुखिया आता है, तो इंतजाम होते हैं और राष्ट्रीय अध्यक्ष गरीब दलित के घर खाना तो इसलिए खा रहे हैं, क्योंकि समाज के हाशिए पर रहे शोषित-वंचित वर्ग को ऊपर लाना हमारा लक्ष्य है. गरीब-वंचित शोषित को मुख्यधारा में लाना हमारा एजेंडा है. इसलिए खाना खा रहे हैं, इसमें कोई जाति की बात नही है . रिनोवेशन में नया कुछ नहीं है. समय-समय पर बदलते रहता है.

Page 1 of 12

Contact Us

For General Enquiry
  •  : info@a1tv.tv
  •  : 0141 - 4515121, 4515151
For Advertising
  • : advt@a1tv.tv,      a1tv.advt@gmail.com
  •  : +91- 98280-11251, 98280-10551
  •  : +91- 98280-10551