SJ Financial II - шаблон joomla Форекс

wrapper

Breaking News

Tuesday, 19 September 2017 00:00

जापानी बुलेट ट्रेन ताइवान में हो चुकी फेल, भारत को रखना होगा ध्यान

Written by 
Rate this item
(0 votes)

नई दिल्ली. बुलेट ट्रेन की दौड़ हर जगह सफल नहीं रही है. पिछले सप्ताह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापानी समकक्ष शिंजो आबे के साथ अहमदाबाद में भारत के पहले बुलेट ट्रेन प्रॉजेक्ट की नींव रखी. इस बीच भारत में भी बुलेट ट्रेन की आवश्यकता और इसकी सफलता पर बहस छिड़ी हुई है. ऐसे में यह जानना उपयोगी है कि ताइवान में बुलेट ट्रेन प्रॉजेक्ट क्यों असफल हो गया. 

ताइवान की कुछ प्राइवेट कंपनियों ने 90 के दशक के शुरुआती सालों में प्रॉजेक्ट की शुरुआत की और 2007 में यहां पहली बुलेट ट्रेन दौड़ी. यह प्रॉजेक्ट जापान की शिनकासेन टेक्नॉलजी पर ही आधारित था, जिसका भारत में भी इस्तेमाल किया जाएगा. प्रॉजेक्ट पर 14.3 अरब डॉलर (करीब 90 हजार करोड़ रुपये) खर्च हुए. सात साल बाद 2014 में सरकार ने इशारा किया कि रेल ऑपरेटर दिवालिया हो सकता है. 

कुल घाटा 46.6 बिलयन न्यू ताइवान डॉलर्स यानी 1.5 अरब अमेरिकी डॉलर (9600 करोड़ रुपये) तक पहुंच चुका था. चूंकि पब्लिक इन्फ्रास्ट्रक्चर का महत्वपूर्ण अंग होने की वजह से इसे बचाया जाना था, ताइवान सरकार ने 1 अरब डॉलर की सहायता प्रदान की. इससे ऑपरेटर के शेयरों के दाम 60 फीसदी तक घट गए. 

Read 89 times Last modified on Saturday, 07 October 2017 08:59

Contact Us

For General Enquiry
  •  : info@a1tv.tv
  •  : 0141 - 4515121, 4515151
For Advertising
  • : advt@a1tv.tv,      a1tv.advt@gmail.com
  •  : +91- 98280-11251, 98280-10551
  •  : +91- 98280-10551